Author: Shipra

Dil ki Baat

मैं मोम सी बन बन पिघलती रही तेरी याद मे यू दिन रात जलती रही तुम ही तो थे मेरे…

Rakshabandhan

भईया मेरे तू जिए हज़ारों साल नहीं मुझे चाहिए कोई उपहार तू रहे बन के हमेशा मेरी ढाल  सलामत रहे…

Dil Ki Baat

प्यार का रिश्ता तेरा मेरा ही तो है, तू मुझे जाने मैं तुझे जानू, कैसे बताऊ की तुम मेरे क्या…